भारतीय संविधान के महत्वपूर्ण संबिधान संशोधन

भारतीय संविधान संशोधन : एक ऐसा विषय है, जहॉ से प्रत्येक परीक्षा मे बहुत ही बेहतरीन प्रश्नो को पूछा जाता है, अगर किसी भी क्षेत्र की परीक्षा हो और उसमे सामान्य ज्ञान Samanya Gyan का विषय हो तो वहॉ पर संविधान Indian Constitution से सम्बन्धित प्रश्न जरुर पूछे जाते है, हमने पीछले Post मे भारतीय संविधान से सम्बन्धित बहुत से Notes/PDF/Question आपके लिए उपलब्ध कराए है, तो आज हम इस टापिक से सम्बन्धित महत्वपूर्ण संशोधन के विषय मे महत्वपूर्ण बिन्दुओ को आपसे साझा करेगे जो 100% आपकी किसी भी परीक्षा के लिए बेहतर साबित होगे तो उपलब्ध जानकारी को ध्यान पूर्वक पढे तथा अपनी तैयारी मे बेहतर रुप से तैयारी को पूर्ण करे।bhartiya samvidha sansodhan

भारतीय संविधान संशोधन

प्रथम संविधान संशोधन अधिनियम (1951)
  • मौलिक अधिकारो मे समानता, स्वतन्त्रता तथा सम्पत्ति के अधिकार को सीमित किया गया।
7 वॉ संविधान संशोधन अधिनियम (1956)
  • राज्यो का पुनर्गठन-14 राज्य तथा 6 केन्द्रशासित पर्देश, लोकसभा एं राज्यसभा मे सीटो का पुनर्वितरण, संघ राज्क्षएत्र का प्रावधान।
13 वाँ संविधान संशोधन अधिनियम (1962)
  • नागालैणअड को भारत का नया राज्य घोषित किया गया (कुछ विशेष उपबन्धो के साथ)
14 वाँ संविधान संशोधन अधिनियम (1962)
  • पाण्डिचेरी  (पुदुचेरी) को भारत का अंग बनाया गया।
42 वाँ संविधान संशोधन अधिनियम (1976)
  • प्रस्तावना मे ‘सम्पूर्ण-प्रभुत्वसम्पन्न, लोकतन्त्रात्मक गणराज्य’ के साथ पन्थनिरपेक्ष, समाजवादी तथा अखण्डता शब्द जोडा गया।
  • राज्य के नीति-निदेशक तत्वो का विस्तार किया गया।
  • संविधान संशोधनो को न्यायालय मे चुनौती नही दी जा सकती।
  • संविधान कर्तव्यो का समावेश किया गया।
  • अनुच्छेद-252 के तहत राष्ट्रपति आपात की घोषणा कर सकेगा।
  • समवर्ती सूची मे जोडे गए-वन, वन्य प्राणी की सुरक्षा, न्यायिक प्रशासन, शिक्षा, नाप तथा तौल।
44 वाँ संविधान संशोधन अधिनियम (1978)
  • सम्पत्ति के मौलिक अधिकार को हटाकर उसे विधिक अधिकार (300A) बना दिया गया।
  • राष्ट्रपति को मन्त्रिमण्डल की सलाह से पुनर्विचार के लिए एक बार लौटाने के बाद दोबारा उसे मानना बाध्यकारी किया गया।
  • राष्ट्रीय आपात के सन्दर्भ मे ‘आन्तरिक अशान्ति शब्द के स्थान पर ‘सशस्त्र विद्रोह’ शब्द रखा गया।
  • अनुच्छेद-20 और 21 द्वारा प्रदत्त मौलिक अधिकारो को राष्ट्रीय आपातकाल मे निलम्बित नही काय जा सकता।

ध्यान दे: अभी हम कुछ और महत्वपूर्ण संविधान संशोधन के बारे मे आपको विस्तार पूर्वक बताएगे जैसे – 52, 61, 73, 74, 86, 91, 94, 00, 101 वाँ संविधान संशोधन के विषय मे हमारे पास कुछ महत्वपूर्ण बिन्दु है, जिन्हे आपसे रुबरु कराएगे।

भारतीय संविधान महत्वपूर्ण संविधान संशोधन 

1. संविधान की आठवीं अनुसूची में शामिल की गई चार नई भाषाएँ हैं?
►-संथाली , मैथिली , बोडो और डोगरी

2. भारतीय भाषाओं को कितने प्रमुख वर्गों में बाँटा गया है?
►-4

3. भारत में सबसे अधिक बोला जाने वाला भाषायी समूह है?
►-इण्डो-आर्यन

4. भारत में सबसे कम बोला जाने वाला भाषायी समूह है?
►-चीनी-तिब्बती

5. ऑस्ट्रिक भाषा समूह की भाषाओं को बोलने वालों को कहा जाता है?
►-किरात

6. चीनी-तिब्बती भाषा समूह की भाषाओं के बोलने वालों को कहा जाता है?
►-निषाद

7. अपभ्रंश के योग से राजसाषानी भाषा का जो साहित्यिक रूप बना, उसे कहा जाता है?
►-डिंगल भाषा

8. ‘एक नार पिया को भानी। तन वाको सगरा ज्यों पानी।’ यह पंक्ति किस भाषा की है?
►-ब्रजभाषा

9. अमीर ख़ुसरो ने जिन मुकरियों, पहेलियों और दो सुखनों की रचना की है, उसकी मुख्य भाषा है?
►-खड़ीबोली

10. देवनागरी लिपि को राष्ट्रलिपि के रूप में कब स्वीकार किया गया था?
►-14 सितम्बर, 1949

11. ‘रानी केतकी की कहानी’ की भाषा को कहा जाता है?
►-खड़ीबोली

12. प्रादेशिक बोलियों के साथ ब्रज या मध्य देश की भाषा का आश्रय लेकर एक सामान्य साहित्यिक भाषा स्वीकृत हुई, जिसे चारणों ने नाम दिया?
►-पिंगल भाषा

13. पंच-परमेश्वर किसकी रचना हैँ?
►-प्रेमचंद की

14. ‘बाँगरू’ बोली का किस बोली से निकट सम्बन्ध है?
►-खड़ीबोली

15. डोगरी भाषा मुख्य रूप से कहाँ बोली जाती है?
►-जम्मू कश्मीर

16. भारत के किस प्रान्त में कोंकणी भाषा बोली जाती है?
►-महाराष्ट्र तथा गोवा

17. आन्ध्र प्रदेश की राजकीय भाषा है?
►-तेलुगु

18. ‘हिन्दी साहित्य का अतीत: भाग- एक’ के लेखक का नाम है?
►-डॉ. विश्वनाथ प्रसाद मिश्र

19. प्रेम लक्षणा भक्ति को किस भक्ति शाखा ने अपनी साधना का मुख्य आधार बनाया है?
►-कृष्णभक्ति शाखा

20. ‘हंस जवाहिर’ रचना किस सूफी कवि द्वारा रची गई थी?
►-कासिमशाह

21. अमीर ख़ुसरो ने किसके विकास में अग्रणी भूमिका निभाई?
►-खड़ी बोली

22. त्रिपुरा की राजभाषा है?
►-बांग्ला

23. आँख की किरकिरी होने का अर्थ हैँ?
►-अप्रिय लगना

24. लाल पीला होने का अर्थ हैँ?
►-क्रोध करना

25. ‘नमक का दरोगा’ कहानी के लेखक हैं?
►-प्रेमचंद

26. किस नाटककार ने अपने नाटकों के लिए रंगमंच को अनिवार्य नहीं माना है?
►-जयशंकर प्रसाद

27. ‘प्रभातफेरी’ काव्य के रचनाकार कौन हैं?
►-नरेन्द्र शर्मा

28. ‘निशा -निमंत्रण’ के रचनाकार कौन हैं?
►-हरिवंश रायबच्चन

29. बिहारी किस राजा के दरबारी कवि थे?
►-जयपुर नरेश जयसिंह के

30. ‘अतीत के चलचित्र’ के रचयिता हैं?
►-महादेवी वर्मा

31. तुलसीदास का वह ग्रंथ कौन-सा है, जिसमें ज्योतिष का वर्णन किया गया है?
►-रामाज्ञा प्रश्नावली

32. ‘रामचरितमानस’ में प्रधान रस के रूप में किस रस को मान्यता मिली है?
►-भक्ति रस

33. आचार्य रामचन्द्र शुक्ल ने ‘त्रिवेणी’ में किन तीन महाकवियों की समीक्षाएँ प्रस्तुत की हैं?
►-सूरदास , तुलसीदास , जायसी

34. हिन्दी साहित्य के इतिहास के सर्वप्रथम लेखक का नाम क्या है?
►-गार्सा द तासी

35. ‘पद्मावत’ किसकी रचना है?
►-मलिक मुहम्मद जायसी

36. ‘बैताल पच्चीसी’ के रचनाकार हैं?
►-सूरति मिश्र

37. ‘लहरें व्योम चूमती उठती। चपलाएँ असंख्य नचती।’ पंक्ति जयशंकर प्रसाद के किस रचना का अंश है?
►-कामायनी

38. किस छायावादी कवि ने संवाद शैली का सर्वाधिक उपयोग किया है?
►-जयशंकर प्रसाद

39. व्यवस्थाप्रियता और विद्रोह का विलक्षण संयोग किस प्रयोगवादी कवि में सबसे अधिक मिलता है?
►-अज्ञेय में

40. भारतेन्दु कृत ‘भारत दुर्दशा’ किस साहित्य रूप का हिस्सा है?
►-नाटक साहित्य

error: कृपया उचित स्थान पर क्लिक करें