Bijli Bill Today New Update : पूरे देशभर मे आज से बिजली बिल वालो के लिए बडी खुशखबरी बडा ऐलान

Bijli Connection Big Relief – बिजली का कनेक्शन लेने में बिजली उपभोक्ताओं को कम पैसे देने होंगे। सराकर ने बिजली उपभोक्ताओं को बड़ी राहत देते हुए बताया है कि जो अभी तक नए कनेक्शन के लिए उपभोक्ताओं से प्रति किलो वाट 50 रूपये लोडिंग चार्ज वसूला जा रहा था। लेकिन अब बिजली उपभोक्ताओं को अब यह चार्ज नहीं देना होगा, इससे बिजली ग्राहको को राहत मिलेगी। उत्तर प्रदेश विद्युत नियामक ने यह फैसला लिया है। अब इसकी जल्द कास्ट बुक व नई गाइड लाइन जारी की जाएगी। इससे सम्बन्धित पूरी जानकारी इसी पोस्ट के माध्यम से विस्तार से पढ़ें।

bijli bill news

Bijli Bill New Update

आपको बता दें कि विद्यूत विभाग ने बिजली उपभोक्ताओं को प्रति किलो वॉट का 50 रूपये नहीं लिया जाएगा। जिससे उपभोक्ताओं को इससे काफी राहत होगी। और आयोग के निर्णय से सिंगल फेस और थ्री फेस मीटरों में भी गिरावट की है। जिससे बिजली उपभोक्ताओं को सीधे लाभ प्राप्त होगा। और दो आवेदक होने पर विद्यूत विभाग कि तरफ से फ्री 40 मीटर लम्बी तार और खम्भा लगाकर कनेक्शन प्रदान किया जाएगा। जिससे विद्यूत नियामक की तरफ से बिजली उपभोक्ताओं को बड़ी राहत प्रदान की जाएगी।

Bijli Bill Latest Update

रिव्यू कमेटी पैनल कमेटी के सदस्य अवधेश कुमार वर्मा ने कहा कि पूरे देश में लोडिंग सिस्टम चार्ज खत्म किया जा चुका है। परंतु उत्तर प्रदेश में अभी भी लोडिंग सिस्टम चार्ज लिया जा रहा है। परंतु कमेटी के इस बैठक से लिए गए निर्णय के अनुसार अब बिजली उपभोक्ताओं को लोडिंग सिस्टम चार्ज खत्म किया जाएगा। उत्तर प्रदेश में यह अव्यवस्था से उपभोक्ताओं को बड़ी राहत मिलेगी।

आयोग की तरफ से यह भी निर्णय लिया गया है कि मीटर की कीमतों में कमी की जाएगी। जिससे सिंगल फेस मीटर कनेंक्शन में 980 रुपये का भुगताने ग्राहक करता था। अब उसे कम करके सिंगल फेस मीटर कनेंक्शन में 872 रूपये दिया जाएगा। और थ्री फेस मीटर कनेक्शन में पहले 2956 रूपये लिया जाता था। लेकिन अब थ्री फेस मीटर कनेंक्शन में 2668 रूपये का भुगतान किया जाएगा। प्रीपेड मीटरों का दाम पहले जैसा है इसमें किसी प्रकार का बदलाव नहीं किया गया है।

Follow Google News Click Here
Whatsapp Group Click Here
Youtube Channel Click Here
Twitter Click Here

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.