बिजली संकट : इन राज्यो मे सबसे बडा बिजली संकट अब 7 दिनो के लिए बचा कोयला जाने पूरी खबर

बिजली संकट को लेकर बहुत ही देश भर में बिजली की किल्लत को लेकर देश भर के आम नागरिक परेशान हो रहे हैं। अब तो माहौल इतना बिगड़ चुका है कि 8 से 10 घण्टों की बिजली की कटौती की जा रही है। जिससे लहलहाती धूप और गर्मी ने लोगों का कर दिया है बुरा हाल, और ऊपर से बिजली की कटौती जिससे लोगों को न तो घर में चैन है और न ही बाहर है। लोगों के घरों में पंखा तो है मगर बिजली नहीं है। AC तो है मगर बिजली नहीं है।

ELECTRICITY BIG NEWS

बिजली की समस्या

देश भर में बिजली की समस्या बहुत ही ज्यादा बढ़ती जा रही है। जिससे कि लोगों के रोजमर्रा के कामों में भी बहुत समस्याएं उत्पन्न हो रही हैं। ऐसे में सरकार का कहना है कि देश भर में सभी थर्मल पावर प्लांटों में कोयले कि कमी बताई जा रही है। जिससे कि बिजली को लेकर इतनी शिकायतें हो रहीं है। यही नहीं बल्कि किसी किसी राज्यों में तो बिजली बिल भी बढ़ाया जा रहा है। अब ऐसे में गरीब आम जनता का जीना मोहाल हो रहा है।

👉कोयले की रैक जल्द पहुंचाने के लिए 657 पैसेंजर ट्रेन रद्द, देश में गहराते बिजली संकट के बीच सरकार का बड़ा फैसला।

👉देश के आधा दर्जन राज्यों में गहराया बिजली संकट, UP में 17 दिन की जगह बचा है 7 दिन का कोयला स्टॉक।

👉अब तक के उच्चतम स्तर पर बिजली की डिमांड,साथ में रूस यूक्रेन युद्ध ने प्रभावित की सप्लाई,कोयले का दाम अपने उच्चतम स्तर पर।

👉कंपनियों को बिजली 8 रुपए प्रति यूनिट के हिसाब से पड़ रही है जो पिछले साल की तुलना में दोगुना है।

👉उपाय–सोलर ऊर्जा को बढ़ावा,बिजली की बचत पर जोर।

उत्तर प्रदेश की बडी समस्या

आपको बता दें कि भारत का सबसे अधिक आबादी वाला राज्य उत्तर प्रदेश जहां पर 3000 मेगा वाट बिजली की कमी बताई जा रही है। जहां लगभग 23000 मेगावॉट बिजली की खपत बताई जा रही है वहीं सिर्फ 20000 हजार मेगावॉट विजली सप्लाई की जा रही है। ऐसे में ग्रामीण क्षेत्रों और छोटे शहरों में बिजली काटी जा रही है। जिससे कि लोगों को बिजली को लेकर काफी दिक्कते आ रही हैं।

अपने प्रश्न पूछे
frontpage hit counter