Chandrayaan 3 : चंद्रयान 3 से बहुत बडी खबर ISRO के वैज्ञानिको ने सूर्य मिशन से सबको चौका दिया

नई दिल्ली : चन्द्रयान 3 को लेकर भारत मे इन दिनो बहुत से लोग चर्चा कर रहे है, ऐसे मे विक्रम लैंडर और रोवर से सम्बन्धित ताजा अपडेट क्या हो सकती है, तथा भारतीय वैज्ञानिको द्वारा इस बारे मे अभी हाल ही मे क्या बडे आदेश किए है, चांद पर दिन के तीन पहर गुजर चुके हैं। अब तक विक्रम और प्रज्ञान नींद से नहीं जागे हैं। उनके लिए 72 घंटे से थोड़ा ज्यादा वक्त ही अब बचा है। ऐसे मे ज्यादातर लोग चंद्रयान 3 के बारे मे जानना चाहते है, पर वास्तव मे अभी एक बहुत ही बडी अपडेट को जारी किया है, जिसमे सूर्य मिशन पर बडा अपडेट अभी हाल ही मे ISRO द्वारा जारी किया गया है, सूर्य मिशन पर बड़ा अपडेट देते हुए इसरो ने कहा, ”आदित्य-एल1 पृथ्वी से 9.2 लाख किलोमीटर से अधिक की दूरी तय कर चुका है।

CHANDRYAAN 3 BIG NEWS
CHANDRYAAN 3 BIG NEWS

Chandrayaan 3 Big News

मिली ताजा अपडेट और सूत्रो के आधार पर अगले तीन-चार दिन में शिव शक्ति प्वाइंट (Shiv Shakti Point) पर अंधेरा छा जाएगा. विक्रम और प्रज्ञान के नींद से जगने की सारी उम्मीद खत्म हो जाएगी. लेकिन चंद्रयान-3 के प्रोपल्शन मॉड्यूल (Propulsion Module- PM) से आस बनी रहेगी, मिली जानकारी के आधार पर वैज्ञानिको ने कहा की अब इसरो के वैज्ञानिक इसमें लगे SHAPE का पूरा फायदा उठा रहे हैं. यह कम से चार-पांच महीने और काम करेगा. लेकिन PM में बचे ईंधन को देखकर लगता है कि यह कई वर्षों तक काम कर सकता है।

अपने ताजा अपडेट में इसरो ने भारत के पहले सूर्य मिशन Aditya L1 को लेकर बहुत बड़ी खुशखबरी दी है।  इसरो ने बताया कि पृथ्वी और सूर्य के बीच पांच लैग्रेंज प्वाइंट हैं, जिसमें से लैग्रेंज प्वाइंट 1 काफी मायने रखता है, क्योंकि इस पॉइंट से बिना किसी परेशानी के सूर्य पर नजर रखी जा सकती है।

चंद्रयान 3 पर बडी खबर

यह 10 साल की कड़ी मेहनत का नतीजा है। ऐसे कई क्षेत्र हैं, जहां हमारी क्षमताएं दोगुनी या तिगुनी हो चुकी हैं।  तापमान माइनस 180 डिग्री तक चला जाता है. ऐसे में इतनी कड़ाके की ठंड में लैंडर और रोवक के खराब होने की उम्‍मीद है. हालांकि इसरो ने अपना मून मिशन केवल 14 दिन में खत्‍म करने के लिहाज से ही डिजाइन किया था।

Join Telegram GroupJoin Now
WhatsApp GroupJoin Now

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.