Advertisement

Computer Output Device (कम्प्यूटर आउटपुट डिवाइस) Names List, Example, Use

Computer Output Device : कम्प्यूटर आउटपुट डिवाइस के अन्तर्गत सम्पूर्ण जानकारी Name of Output Devices तथा यह भी जानेगे What Is an Output Device? Output Devices | Types, Examples & Uses के बारे मे भी तथा इस आउटपुट डिवाइस कौन कौन से होते है, प्रश्नोत्तर सम्बन्धित सभी कुछ इस लेख मे पढेगे।

output device

Output Device Kya Hai

आउटपुट डिवाइस कम्प्यूटर द्वारा Processing के पश्चात प्राप्त अंतरिम तथा अंतिम परिणामों को Users तक पहुचाने के लिए प्रयुक्त एक युक्ति है। यह कम्प्यूटर  को Users के साथ जोडता है ता Processor द्वारा प्राप्त परिणामों को Users के समझने योग्य स्वरूप में प्रदर्शित करता है। चूंकि प्रोसेसर से प्राप्त परिणाम बाइनरी संकेतो ( 0 या 1) में होंते है, अतः इन्हे आउटपुट इंटरफेस (Quit put Information) द्वारा सामान्य संकेतों में परिवर्तन किया जाता है।

Output Device के कार्य हैं-

  1. CPU से परिणाम प्राप्त करना
  2. प्राप्त परिणामों को Human द्वारा समझने तक संकेतों में बदलना
  3. परिणाम के परिवर्तित संकेतों को उपयोग तक पहुंचाना

Example – Monitor, Printer, Plotter, Speaker, Screen Image Projector, Card reader etc.

Advertisement

आउटपुट डिवाइस दो तरह की होती है-

  1. Soft copy Output Device
  2. Hard Copy Output Device

Advertisement

अन्य जानकारी पढे :

Soft Copy Output Device

Monitormonitor output device

कम्प्यूटर आउटपुट की सॉफ्ट कॉपी को प्रदर्शित करने के लिए सबसे लोकप्रिय डिवाइस एक Monitor है। यूजर मॉनिटर के द्वारा आउटपुट को स्क्रीन पर देख या पढ़ सकता है।

मॉनिटर (Monitor) दो प्रकार के होते है-

  1. CRT Monitor
  2. Flat Panel Monitor
CRT MonitorCRT Monitor output device

CRT Monitor दो प्रकार के होतें है-

  1. Monochrome CRT Monitor
  2. Colour CRT Monitor
Monochrome CRT MonitorMonochrome CRT Monitor output device

Monochrome CRT Monitor उसे कहतें है। जिसमे एक Electron Gun का प्रयोग हुआ होता है। इसे Black &White Monitor के नाम से भी जाना जाता है।

Colour CRT Monitor 

Colour CRT Monitor उसे कहतें है। जिसमे तीन Electron Gun का प्रयोग हुआ होता है। वे है RGB- (Red Green Blue) और इसे Colour Monitor के नाम से भी जाना जाता है।

Advertisement

Flat Panel Monitor

CRT मॉनिटर की तुलना में फ्लैट पैनल मॉनिटर बहुत हल्का होता है। आज जो सबसे अधिक और नवीनतम एलसीडी उपयोग की जाती है। उसमे थिन फिल्म ट्रांजिस्टर (Thin Film Transistor- TFT) उपयोग में ली जाती है और हर एक पिक्सेल को नियंत्रित किया जाता है।

LED मॉनिटर मूल रूप से LCD मॉनिटर है जिसमे LED Backlight लगा होता है, जो LCD Panel को रौशनी व शक्ति प्रदान करता है। ये सब Flat Panel Monitor के उदाहरण की श्रेणी में आतें है।

Hard Copy Output Device

Printersprinter output device

प्रिंटर एक आउटपुट डिवाइस है। Printer एक Hard Copy Output Device है जिसकी मदद से हम किसी Soft Copy को Hard Copy में Change कर सकतें है। जिसका इस्तेमाल कागज पर इनफॉर्मेशन प्रिंट करने के लिए किया जाता है। प्रिंटर दो तरह के होतें है-

  1. Inkjet Printer
  2. Laser Printer

कई अलग-अलग प्रकार के प्रिंटर हैं। उपयोग की गई टेक्‍लोलॉजी के संदर्भ में, प्रिंटर निम्नलिखित कैटेगरिज में आते हैं:

Dot Matrix Printersdot matrix printer output device

Dot Matrix Printer के टिकाऊपन और कम किमत के कारण यह घरों और छोटे व्यवसायों में इस्‍तेमाल किया जाता हैं।एक प्रिंट हेड, स्याही के साथ एम्बेडेड रिबन के माध्यम से पेपर पर स्‍ट्राइक होता हैं और इससे पेपर पर लेटर्स प्रिंट होते हैं यह पूराने फ़्रेम वाले टाइपराइटर की तरह हैं।

Inkjet Printer

कन्‍जूमर मार्केट के लिए कंप्यूटर प्रिंटर का सबसे आम टाइप इंक जेट प्रिंटर है। कंप्यूटर स्‍टोर में उपलब्ध कुछ सबसे सस्ते प्रिंटर में इंक जेट प्रिंटर हैं, जबकि कुछ बेहतरीन गुणवत्ता वाले इंक जेट प्रिंटर है सबसे महंगे होते हैं।

एक इंक जेट प्रिंटर पेपर पर सीधे तरल स्याही के छोटे बूंदों को छिड़कर कागज के एक टुकड़े पर एक इमेज प्रिंट करता है। Inkjet Printer आमतौर पर खरीदना सस्‍ते होते हैं, हालांकि इसकी इंक महंगी होती है।

Laser printers

Laser Printer एक Photocopy Machine की तरह काम करता है। लेजर प्रिंटर एक मिरर पर एक लेज़र बीम को प्रोडयूस करके कागज पर इमेज प्रिंट करते हैं जो एक ड्रम पर बीम को बाउंस करता है। ड्रम पर एक विशेष कोटिंग होती है जिसमें टोनर (एक इंक पाउडर) चिपक जाती है।

छोटे डॉटस् के पैटर्न का उपयोग करते हुए, लेजर बीम नूट्रीलाइज़ होने के लिए कंप्यूटर से पॉजिटिवली चार्ज ड्रम तक इनफॉर्मेशन ले जाता हैं। ड्रम के उन सभी एरियाज से जो नूट्रीलाइज़ हो जाते हैं, टोनर को अलग करता है। ड्रम द्वारा पेपर रोल होने पर, टोनर कागज पर लेटर या अन्य ग्राफिक्स को प्रिंटिंग किया जाता है।

लेजर प्रिंटर की स्‍पीड अधिक होती है और वे बहुत शोर पैदा किए बिना चुपचाप प्रिंट करते हैं। कई होम-लेज़र प्रिंटर एक मिनट में आठ पेजेस को प्रिंट कर सकते हैं, लेकिन फास्‍टर प्रिंटर 21,000 लाइनें प्रति मिनट या 437 पेजेस प्रति मिनट अगर प्रत्येक पेज में 48 लाइनें हैं प्रिंट कर सकते हैं।

Daisy-Wheel Printers

Typewriter पर क्‍वालिटी गुणवत्ता प्राप्त करने के लिए, डेज़ी-व्हील इफेक्ट प्रिंटर का उपयोग किया जा सकता है। इसे डेज़ी-व्हील प्रिंटर कहा जाता है क्योंकि प्रिंट मैकेनिज़म एक डेज़ी जैसा दिखता है; प्रत्येक ” Petal” के अंत में एक पूरी तरह से डेवलप कैरेक्‍टर होता है जो सॉलिड लाइन प्रिंट बनाता है।

एक हैमर petal पर स्‍ट्राइक होता हैं, जिसमें रिबन के विरुद्ध एक कैरेक्‍टर होता है, और पेपर पर कैरेक्‍टर प्रिंट होता है। इसकी स्‍पीड स्‍लो है आमतौर पर प्रति सेकंड 25-55 कैरेक्‍टर ही प्रिंट होते हैं।

Line printers

ऐसे व्यवसाय में जहां भारी मात्रा में मटेरियल को प्रिंट किया जाता है। लाइन प्रिंटर, विशेष मैकेनिजम का उपयोग करते हैं जो एक रो को एक बार में ही प्रिंट कर सकते हैं; वे आम तौर पर प्रति मिनट 1,200 से 6,000 लाइनों को प्रिंट कर सकते हैं।

Drum Printer

एक ड्रम प्रिंटर में सॉलीड, सिलेंड्रिकल ड्रम होता है जिसके सरफेस पर बैंड में लैटर्स होते है। ड्रम में प्रिंट पोजिशन की संख्या पेज पर उपलब्ध संख्या के बराबर होती है। यह संख्या आमतौर पर 80 से 132 प्रिंट पोजिशन है। ड्रम तीव्र गति से घूमता है। प्रत्येक संभव प्रिंट पोजिशन के लिए कागज के पीछे स्थित एक प्रिंट हैमर है।

ये हैमर, स्याही रिबन के साथ कागज पर स्‍ट्राइक करते हैं। लाइन पर सभी कैरेक्‍टर बिल्कुल एक ही समय में प्रिंट नहीं होते हैं, लेकिन पूरी लाइन को प्रिंट करने के लिए आवश्यक समय काफी फास्‍ट हैं। ड्रम प्रिंटर की विशिष्ट स्‍पीड 300 से 2000 लाइनें प्रति मिनट में होती है।

Chain Printers

एक चेन प्रिंटर, दो पुलि के आसपास लिपटे प्रिंट कैरेक्‍टर की एक चेन का उपयोग करता है। ड्रम प्रिंटर की तरह, प्रत्येक प्रिंट पोजिशन के लिए एक हैमर है। रिबन के विरूध्‍द पेपर को प्रेस कर हैमर पेज पर स्‍ट्रइक होता है, प्रिंट पोजीशन पर कैरेक्‍टर प्रिंट होता हैं।

Projector Output Deviceprojector output device

Projector एक आउटपुट डिवाइस होता है जो की computer या blue ray player के द्वारा generate किया गया image को लेता है और उसको reproduce करता है मतलब की उसको एक बड़ा screen में display कराने का काम करता है। यह बड़ा स्क्रीन कोई दीवाल (wall), screen या फिर कोई plain surface (like board) हो सकता है।

Speaker Output Devicespeaker output device

का मतलब होता है बोलने वाला| Speaker एक आउटपुट डिवाइस है जो की computer से connect होकर के sound उत्पन्न करने का काम करता है| Computer के द्वारा जो sound उत्पन्न होता है उसे उत्पन्न करने के लिए computer के sound card का इस्तेमाल किया जाता है।

Plotter Output Device Plotter output device

Plotter एक आउटपुट डिवाइस होता है जो की printer के जैसा ही होता है।plotter का इस्तेमाल vector graphics को print करने के लिए किया जाता है| जब भी कोई digital image को mathematical expression और equation के मदद से बनाया जाता है

उसे Vector graphics या vector image कहा जाता है। Vector graphics के द्वारा बनाये गए image को आप कितना भी zoom (बड़ा) करेंगे तो उसके quality में कोई फर्क नहीं पड़ता है।

Read More : https://en.wikipedia.org/wiki/Output_device