पारिस्थितिकी एवं पर्यावरण ( Ecology and Environment ) Gk Questions And Pdf Notes

Ecology and Environment Questions परिस्थितिकी एवं पर्यावरण Notes PDF Download, हम आप के लिए लेकर आयें है। हमारी द्वारा दी गयी इस Notes में पर्यावरण परिस्थितिकी PDF से सम्बन्धित महत्वपूर्ण बातों के बारें सभी प्रकार की जानकारी दी गयी है। आप हमारे द्वारी दी गयी Notes को PDF में Download करने के लिए हमनें एक लिंक लगा दी है। जिस पर Click करके आप Notes को PDF में Download कर सकतें है।

Environment Notes pdf download

Environment पर्यावरण GK Questions

सौरमंड़ल के ज्ञात ग्रहों में पृथ्वी इकलौता ऐसा ग्रह है। जहाँ जीवन संभव है। इसका कारण यहाँ का पर्यावरण है। पर्यावरण क्या है, इसकी विवेचना अलग- अलग क्षेत्रों में काम कर रहें व्यक्तियों द्वारा भिन्न- भिन्न तरीके से की जाती है। भौतिक वैज्ञानिक इसे भौतिक पर्यावरण के रूप में देखतें है। तथा इसमें जैवमंड़ल के जीवित जीवों को सम्मलित करतें है। वहीं सामाजिक वैज्ञानिक इसे सामाजिक, आर्थिक, संगठनात्मक पर्यावरण के रूम में परिभाषित करतें है। सामान्य शब्दों में पर्यावरण का आशाय जैविक एवं अजैविक घटको  एवं उनके आस-पास से वातावरण के सम्म्लित रूप में है जो पृथ्वी पर जीवन के आधार को संभव बनाता है। अतः पर्यावरण एक प्राकृतिक परिवेश है। जो पृथ्वी पर जीवन को विकसित, पोषित एवं समाप्त होने में मदद करता है।

Environment शब्द फ्रेंच भाषा के ‘Environner’ शब्द से लिया गया है। जिसका अर्थ है- घिरा हुआ या घेरना। पर्यावरण शब्द का शाब्दिक अर्थ आस-पास, मानव, जन्तुओं या पौधों की वृद्धि एवं विकास को प्रभावित करने वाली बाह्य दशाएं, कार्य प्रणाली तथा जीवन-यापन की दशाएं आदि से होता है। पर्यावरण( संरक्षण) अधिनियम 1986 के अनुसार, पर्यावरण किसी जीव के चोरों तरफ घिरें भौतिक एवं जैविक दशाएं एवं उनके साथ अंतः क्रिया को सम्म्लित करता है।

Ecology and Environment GK Questions

पर्यावरण उस परिस्थितियो तथा भौतिक दशाओं को प्रदर्शित करता है। जो किसी एकाकी जीव या जीव समूह  को चारों ओर से आवृत्त करती हैं तथा उसे प्रभावित करती है, अथवा पर्यावरण वे प्राकृतिक एवं सामाजिक- सांस्कृतिक दशाएं है। जो एकल मानव या मानव समुदाय को प्रभावित करती है। चूंकि मनुष्य प्राकृतिक क्षेत्र से लेकर निर्मित या प्रौद्योकगिकीय, सामाजिक एवं सांस्कृतिक क्षेत्रों में रहता है। अतः ये सभी पर्यावरण में ही जीवित रह सकते है, वे एक-दूसरे के साथ पारास्परिक क्रिया करतें हैं एवं पर्यावरण के संपूर्ण जटिल कारकों द्वारा प्रभावित होतें है। पर्यावरण सभी जैविक तथा अजैविक अवयवों का सम्मिश्रण है। पर्यावरण के कुछ कारक संसाधन के रूप में जबकि दूसरे से जुड़े हुए और पारस्परिक क्रिया करतें है। एवं पर्यावरण के संपूर्ण जटिल कारकों द्वारा प्रभावित होतें है। पर्यावरण सभी जैविक तथा अजैविक अवयवों का सम्मिश्रण है। पर्यावरण के विभिन्न अवयव एक-दूसरे से जुड़े हुए और परस्पर आश्रित रहतें है। पर्यावरण के कुछ कारक संसाधन के रूप में जबकि दूसरे कारक, नियंत्रण के रूप में कार्य करते है।

पर्यावरण के घटक तथा पर्यावरणीय कारक 

चूँकि पर्यावरण एक भौतिक एवं जैविक संकल्पना है अतः इसमें पृथ्वी के भौतिक या अजैविक संघटकों को सम्मिलित किया जाता है। पर्यावरण की इस आधारभूत संरचना के आधार पर पर्यावरण को निम्नलिखित प्रकार से विभाजित किया जा सकता है-

पर्यावरण परिस्थितिकीय pdf in hindi

पर्यावरण के एक स्तर की संरचना, अन्य स्तर के साथ संलग्न है तथा इनके विभिन्न स्तरों के बीच आभिलक्षणिक तौर पर कोई स्पष्ट रेखा नहीं होती है। पर्यावरण को वृहद् तथा लघु स्तर पर समझा जा सकता है। यह क्षेत्रीय तथा भूमंडलीय जलवायु की प्रवृत्ति तथा स्थानीय सूक्ष्म जलवायु द्वारा प्रदर्शित की जाती है। संसाधनों को स्वयं के अनुरूप बनाने में समर्थ हो गया था लेकिन प्राकृति की सर्वोच्चता बनी हई थी।

Ecology Notes PDF Download

औद्योगिक क्रान्ति एवं विज्ञान एवं तकनीकी के विकास ने मानव-पर्यावरण संबंन्धों की दिशा को तय करने में बड़ी भूमिका निभाई। किन्तु औद्योगिक क्रांति एवं विज्ञान एवं तकनीकी के विकास ने मानव-पर्यावरण संबंधों की दिशा को तय करने में बड़ी भूमिका निभाई।

 Download Ecology and Environment Notes PDF

PDF महत्वपूर्ण जानकारी
Pages 87
PDF Size 16 MB
language Hindi

तो कैसी लगी आपको हमारी यह ”पारिस्थितिकी एवं पर्यावरण ( Ecology and Environment ) Gk Questions And PDF Notes इसके बारे मे हमे  बताए तथा किसी प्रकार की अन्य नोट्स या जानकारी चाहिए तो नीचे कमेंट करके जरुर पूछे। तथा नीचे दिए गजरुरए Facebook, Whatsapp Button के माध्यम से इसे किसी अन्य को भी Share कर सकते है

error: कृपया उचित स्थान पर क्लिक करें