IAS Officer की Training कैसे होती है, LBSNAA के बारे मे जाने

IAS Training Kaise Hoti Hai. UPSC Exam क्लियर करने के बाद अन्त मे UPSC Training दी जाती है, जिसे LBSNAA Kya Hai, Lal Bahadur Shastri National Academy of Administration जो की Mussoorie मे है, यहॉ जितने भी IAS Officers Select होते है, उनकी ट्रेनिंग होती है।

इस लेख मे इन सभी प्रक्रम के बारे मे विस्तार से जानेगे, की आईएस की ट्रेनिंग कैसे होती है, IAS Training Details के बारे मे भी बात करेगे तो लेख को ध्यान दे।

IAS TRAINING

IAS Training Details

IAS Training Details भारत में हर साल लाखों युवा सरकारी नौकरी की परीक्षा में सम्मिलित होते हैं। और यह नौकरियां भारत में अलग अलग आयोगों द्वारा दी जाती है। इन्हीं आयोग में से एक है संघ लोक सेवा आयोग यानी कि UPSC। संघ लोक सेवा आयोग भारत में कई सारी परीक्षाएं आयोजित कराता है और यह सभी परीक्षाएं उच्चतम स्तर की होती है। परंतु अगर एक परीक्षा की बात की जाए जिसको भारत का प्रत्येक युवा देना चाहता है और उसे पास करना चाहता है उसका नाम है UPSC CSE (Civil Services Examination)

The IAS training program schedule is given below:

  • Foundation Course
  • Phase-I
  • District Training
  • Phase-II
  • Assistant Secretary-ship
Service Institution Venue
IAS Lal Bahadur Shastri National Academy of Administration (LBSNAA) Mussoorie
IPS Sardar Vallabhbhai Patel National Police Academy (SVPNPA) Hyderabad
IFS Foreign Service Institute New Delhi
IFoS Indira Gandhi National Forest Academy (IGNFA) Dehradun
IRS (Income Tax) National Academy of Direct Taxes Nagpur
IRS (Customs and Central Excise) National Academy of Customs, Excise & Narcotics Faridabad

UPSC CSE को भारत की सबसे कठिन परीक्षा माना जाता है। ऐसा इसलिए भी क्योंकि इस में पूछे जाने वाले प्रश्नों की कोई सीमा नहीं है और बहुत ही बुद्धिमान और सर्वगुण संपन्न छात्र ही इस परीक्षा को उत्तीर्ण कर पाते हैं। आप में से भी कई सारे लोग ऐसे होंगे जो इस परीक्षा को देना चाहते होंगे और उत्तीर्ण करना चाहते होंगे।

परंतु क्या आप जानते हैं कि इस परीक्षा को पास करने के बाद क्या होता है? तो आज मैं आपको इस पोस्ट में यही बताने वाला हूं कि इस परीक्षा को पास करने के बाद आपकी ट्रेनिंग कहां करवाई जाती है। इसके साथ-साथ आज मैं उस ट्रेनिंग अकादमी के बारे में भी सब कुछ आपको बताऊंगा।

UPSC Exam पास करने के लिए आपको 3 चरण की परीक्षा को पास करना पड़ता है जिसमें सबसे पहले चरण में आपको Prelims Exam को पास करना होता है। उसको पास करने के बाद आपको mains exam पास करना होगा। और अंत मे interview देकर यदि आप मेरिट लिस्ट में आ जाते है तो आपको आपकी rank के अनुसार service प्रदान की जाती है। जैसे कि जो देश मे सबसे अव्वल आते है उन्हें IAS (Indian Administrative Service) प्रदान की जाती है।

आगे बढ़ने से पहले मैं आपको इसके तहत दी जाने वाली सर्विस के प्रकार बताना चाहूंगा।

CSE पास करने के बाद दो तरह की सर्विस दी जाती है। पहली होती है AIS (All India Services) और दूसरा प्रकार है CCS (Central Civil Services)। AIS वह सेवा है जिनकी नियुक्ति केंद्र सरकार द्वारा की जाती है परंतु यह काम राज्य सरकार के अंतर्गत ही करते हैं।

इसके अंतर्गत आने वाली सेवाएं हैं IAS (Indian Administrative Services) , IPS (Indian Police Services) और IFS (Indian Forest Services)। अन्य सभी सेवाएं जैसे IPS (Indian Postal Services) , IFS (Indian Foreign Services) , IRS (Indian Railway Services) आदि सभी सेवाएं CCS के अंतर्गत ही आती है। CCS वह सेवाएं हैं जिनकी नियुक्ति केंद्र सरकार के द्वारा की जाती है और यह काम भी केंद्र सरकार के अंतर्गत ही करते हैं।

What is LBSNAA Kya Hai

लाल बहादुर शास्त्री राष्ट्रीय प्रशासन अकादमी (LBSNAA) भारत में सार्वजनिक नीति और सार्वजनिक प्रशासन पर एक शोध और प्रशिक्षण संस्थान है। LBSNAA भारत की केंद्र सरकार द्वारा संचालित किया जाता है। हिमालय की तलहटी में उत्तराखंड से 30 किलोमीटर दूर मसूरी शहर में स्थित है। डॉ संजीव चोपड़ा इस प्रमुख संस्थान के वर्तमान निदेशक के रूप में कार्य करते हैं।

LBSNAA अकादमी का मुख्य उद्देश्य भारतीय प्रशासनिक सेवा(IAS) भारतीय वन सेवा (IFS) के सिविल सेवा अधिकारियों को प्रशिक्षित करना है। इसके अलावा यह ग्रुप-ए सेंट्रल सर्विसेज जैसे भारतीय विदेश सेवा (IFS) के लिए भी बनाया गया है। प्रशिक्षण पूरा होने के बाद, अधिकारियों को दिल्ली के जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय (JNU) से Public Management में MA की डिग्री प्रदान की जाती है।

LBSNAA Admission Details Step By Step

जिन आवेदकों को UPSC ( Union Public Service Commission ) यानी कि संघ लोक सेवा आयोग द्वारा स्वीकार किया जाता है वे चार महीने के फाउंडेशन कोर्स के लिए LBSNAA में भाग लेते हैं।  इस पाठ्यक्रम में, सभी भावी अधिकारियों के बीच “समानता” की भावना का परिचय दिया जाता है।

इसके बाद, IAS (Indian Administrative Service) के अधिकारी अकादमी में अपना प्रशिक्षण जारी रखते हैं, जबकि अन्य सेवाओं के अधिकारी संबंधित कॉलेजों में जाते हैं, जैसे कि भारतीय पुलिस सेवा (IPS) के अधिकारियों के लिए हैदराबाद में सरदार वल्लभभाई पटेल राष्ट्रीय पुलिस अकादमी और भारतीय वन सेवा के अधिकारियों के लिए देहरादून में इंदिरा गांधी राष्ट्रीय वन अकादमी। 

अकादमी ने 2007 में भारतीय प्रशासनिक सेवा (IAS) के अधिकारियों के लिए मध्य कैरियर प्रशिक्षण कार्यक्रम आयोजित करना शुरू किया।

अकादमी को कई अनुसंधान केंद्रों द्वारा शासन और सार्वजनिक प्रशासन के क्षेत्रों में research में सहायता प्रदान की जाती है, जिनमें से कुछ को स्वायत्त दर्जा प्राप्त है। अकादमी का सबसे महत्वपूर्ण अनुसंधान केंद्र एक कार्यकारी निदेशक की अध्यक्षता में राष्ट्रीय प्रशासनिक अनुसंधान संस्थान है। अकादमी में आपदा प्रबंधन केंद्र, ग्रामीण अध्ययन केंद्र, लिंग केंद्र और ग्रामीण ऋण केंद्र भी है।

तो यह थी लाल बहादुर शास्त्री राष्ट्रीय प्रशासन अकादमी यानी कि LBSNAA के बारे में पूरी संपूर्ण जानकारी। तो इस पोस्ट में मैंने आपको बताया कि कैसे आप लाल बहादुर शास्त्री राष्ट्रीय प्रशासन अकादमी में दाखिल हो सकते हैं और वहां पर क्या-क्या सुविधाएं मौजूद है। यदि आपके इस पोस्ट से जुड़े कोई सवाल है तो आप प्रश्न हमें पूछ सकते हैं।

अपने प्रश्न पूछे
x