Ration Card : फ्री राशन कार्ड वालो के लिए बडी खबर 6 लाख परिवारो के लिए बडा फैसला

Ration Card : सरकार का बडा फैसला जितने भी ऱाशन कार्ड धारक है,उनके लिए एक बहुत ही बडी खबर है। राशन कार्ड धारको को बहुत ही बडा लगेगा झटका सरकार ने बंद की फ्री राशन योजना। ऐसे मे अगर आप राशन कार्ड पर सरकार की मुफ्त राशन योजना का लाभ ले रहे है और उत्तर प्रदेश मे रहते है। तो यह खबर आपके लिए बहुत काम की है। जितने भी इस राशन कार्ड योजना के लाभार्थी थे ,अगर वो पात्र है तो उनको  मिलेगा राशन। तो चलिए दोस्तो आज हम इस लेख की मदद से आपको पूरी जानकारी देंगे, नीचे लिखे लेख को ध्यान पूर्वक अवश्य पढे।

ration card 2 september news

Ration Card Today News

राशन कार्ड को लेकर राज्य सरकार और केन्द्र सरकार ने लिया बडा फैसला। राज्य सरकार 6 लाख परिवारो के राशन कार्ड निरस्त करेगी। इन कार्डो पर अलग-अलग जिलो मे लंबे समय से दोहरा राशन लिया जा रहा है। अब यह गडबडी पकड मे आने के बाद खाद्य रसद विभाग ने इन कार्डो को खत्म करने की तैयारी कर ली है। 6 लाख परिवारो के नाम पर खाद्यान की डबल आपूर्ति के इस मामले मे विभाग की बडी तकनीकी खामी भी उजागर हुई है। केवल वास्तविक व जायज परिवारो को ही रियायती दर का सरकारी राशन मिले, इसलिए राशन कार्डो को आधार संख्या से लिंक किया गया था। कोई परिवार एक ही आधार संख्या से दो राशन कार्ड न बनवा सके, इसके लिए खाद्य रसद विभाग ने डी-डुप्लीकेशन सॉफ्टवेयर का भी इस्तेमाल किया लेकिन चूक यह हो गई कि सॉफ्टवेयर केवल जिला स्तर पर लगाया गया। प्रदेश स्तर पर इसका इस्तेमाल ही नही किया गया यानी एक आधार संख्या के जरिए किसी एक जिले मे दो राशन कार्ड बनवाने परतो पकड मे आ सकते थे।

Ration Card Big Fraud

लेकिन, दो अलग-अलग जिलो मे यदि एक ही आधार से दो राशन कार्ड बने हो तो यह पकड मे नही आ सकता, यही तकनीकी सुराख प्रदेश मे गडबडी का वजह बन गया। करीब 6 लाख परिवारो के राशन कार्ड दो जिलो मे बन गए। तो ऐसे मे सरकार ने विभाग के ही एक अधिकारी ने बताया की कार्ड मे दर्ज परिवार के मुखिया के असल निवासी वाला कार्ड जारी रहेगा, जबकि दूसरा कार्ड समाप्त कर दिया जाएगा। मुखिया के निवासी वाले पते पर ही मिल सकेगा सरकारी राशन।

Follow Google News Click Here
Whatsapp Group Click Here
Youtube Channel Click Here
Twitter Click Here

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.