Class 10th, 12th Big News : अब बिना फीस 10वीं, 12वीं की पढाई करें पैसो की चिन्ता खत्म पढाई अब फ्री मे

Student Happy News : सरकार की तरफ से विद्यार्थियों के लिए बहुत बड़ी खुशखबरी प्रदान की गई है। अब बिना फीस के भी 10वीं और 12वीं के छात्र और छात्रा अपनी परीक्षा में बैठ सकते हैं। क्यों कि बहुत से छात्र और छात्राओ की फीस न जमा होने के कारण परीक्षा में बैठने के लिए रोक लगा दी गई थी। जिससे बहुत से छात्र और छात्राओं की परीक्षा फीस जमा न होने के कारण परीक्षा में नहीं बैठ सकेंगे। ऐसे में 11 से अधिक निजी व सरकारी स्कूलों ने फीस न जमा होने के मामले में तूल पकड़ लिया था है। परंतु शिक्षा मंडल की तरफ से छात्र और छात्राओं को बड़ी राहत की खबर देखने को मिली है। इससे सम्बन्धित पूरी जानकारी इसी पोस्ट के माध्यम से विस्तार से पढ़ें।

student happy news
student happy news

Student Happy News

आपको बता दें कि छात्र और छात्राओं के भविष्य के साथ खिलवाड़ कर रहे स्कूलों पर सरकार द्वारा बहुत बड़ा कदम उठाया गया है। जिससे अब छात्र और छात्राओं के लिए अच्छी खबर निकलकर आई है। मध्य प्रदेश माध्यमिक शिक्षा मंडल के सचिव श्रीकांत बनोठ के द्वारा आश्वासन दिया गया है। अब जिन बच्चों की परीक्षा फीस नहीं जमा है उन्हें परीक्षा में बैठने से नहीं रोका जाएगा। अब बिना परीक्षा फीस जमा किए बगैर 10वीं और 12वीं के छात्र अपनी परीक्षा में बैठ सकते हैं। और इससे सम्बन्धित फैसले पर बीच का निर्णय निकाला जाएगा। परंतु किसी भी छात्र और छात्राओं का भविष्य खबराब करने का कोई अधिकार नहीं है।

Student Happy Latest News

एमपी बोर्ड ने परीक्षाओं के लिए 10वीं और 12 के छात्रों के लिए 900 रूपये परीक्षा शुल्क निर्धारित की थी। इसके लिए फीस जमा करने के लिए अंतिम तारीख 30 सितंबर रखा गया था। इसके साथ ही जन छात्र और छात्राओ को परीक्षा फीस जमा करने में अधिक समय लग रहा था। उनके लिए 100 रूपये फाइन के रूप में बढ़ाकर और समय प्रदान किया गया था। और इसके पश्चात भी अगर फीस जमा नहीं की गई तो 20 नवंबर तक 2000 रूपये फीस ली जाएगी। परंतु मध्य प्रदेश माध्यमिक शिक्षा मंडल की तरफ से सभी 10वीं और 12वीं के लिए राहत भरी खबर है कि अब छात्र और छात्रा बिना फीस जमा किए भी अपनी परीक्षा में बैठ सकते हैं।

Follow Google News Click Here
Whatsapp Group Click Here
Youtube Channel Click Here
Twitter Click Here

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.