UP Apprentice Rojgar Mela : उत्तर प्रदेश मे बेरोजगारो के लिए रोजगार मेला होगी डायरेक्ट भर्ती जल्द करें रजिस्ट्रेशन

UP Apprentice Rojgar Mela : प्रदेश के सभी जिलो मे 21 अप्रैल को होने जा रहे अप्रेंटिश मेले मे लगभग 75 हजार युवाओ के साथ आठ हजार उद्यमियो के शामिल होने की संभावना है। पहले मेले मे लगभग 50 हजार युवाओ को जोडने का लक्ष्य रखा गया था। मेले की सभी तैयारिया 18 अप्रैल तक पूरी करने के निर्देश दिए गए है। प्रत्येक मंडल मे मेले की प्रगति व निगरानी के लिए नोडल अधिकारी तैनात किए गए है।

berojgar mela today news

UP Apprentice Rojgar Mela

मेले की तैयारी के सम्बन्ध में शुक्रवार को प्रमुख सचिव, व्यावसायिक शिक्षा एवं कौशल विकास अमृत अभिजात ने सम्बन्धित अधिकारियों के साथ आनलाइन समीक्षा की। उन्होंने कहा कि ऐसे जिले जहां बड़ी संख्या में उद्योग संचालित हो रहे हैं। वहां की प्रगति बेहतर होनी चाहिए। बैठक में विभाग के पीएमयू राइट वाॅक फाउंडेशन की सीईओ समीना बानो ने बताया कि अब तक 35 हजार से अधिक रिक्तियां उद्योग एमएस एमई द्वारा पोर्टल पर प्रदर्शित की गई है। मेले के दिन तक इनकी संख्या और बढ़ जाएगी। इसके अलावा अधिकारियों नें बताया की मेला में हिस्सा लेने वाले उद्योग एमएसएमई व अभ्यार्थियों की सुगमता के लिए एक पोर्टल तैयार किया गया है। इस पर ऑकड़ों को प्रत्येक 2 घण्टे के अंतराल पर अपडेट किया जाएगा।

UP Rojgar Mela 50 Thousand Vacancy

प्रशिक्षण एवं सेवायोजन निदेशक हरिकेश चौरसिया ने बताया कि मेले की निगरानी लखनऊ से ऑनलाइन की जाएगी। बैठक में मण्डलायुक्त लखनऊ रंजन कुमार, उत्तर प्रदेश कौशल विकास मिशन के निदेशक आंद्रा वामसी, विषेश सचिव, व्यावसायिक शिक्षा एवं कौशल विकास अभिषेक सिंह भी मौजूद थे। वहीं जिले व मण्डल स्तरीय अधिकारियों ने भी हिस्सा लिया।

लखनऊ अपर मुख्य सचिव सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यम डॉ. नवनीत सहगल ने अप्रेंटिस मेले में भाग लेने के लिए अधिक से अधिक युवाओं और उद्योगों का रजिस्ट्रेशन कराने के निर्देश दिये है। उन्होंने लोक भवन स्थित अपने कार्यालय कक्ष मे शुक्रवार को मेले के अयोजन की समीक्षा की। उन्होंने अधिकारियों से कहा कि उद्योगों से फीडबैक प्राप्त कर अधिक उपयोगिता वाले कोर्स को प्रथिमिकता दी जाए।

जहां जिस ट्रेड की ज्यादा मांग है, वहां उसी ट्रेड पर प्रशिक्षण कराया जाएगा, ताकि प्रशिक्षण प्राप्त करने वाले को आसानी से रोजगार मिल जाए। बैठक में विषेश सचिव एमएसएमई प्रदीप कुमार के साथ ही सभी जनपदों के उपायुक्त उद्योग ऑनलाइन जड़े थे।

अपने प्रश्न पूछे
frontpage hit counter