Join Telegram GroupJoin Now
WhatsApp GroupJoin Now

UP NEWS : उत्तर प्रदेश मे 12 शहरो के लिए नई पालिसी जमीन खरीदने के लिए 50% सरकार देगी अब

UP New Township Policy 2023 : उत्तर प्रदेश में रहने वाले के लिए बड़ी खुशखबरी निकल कर आ गई है। सरकार द्वारा लागू की जाने वाली योजनाओं में से एक है। जिसमें राज्य के लाखों बेघर लोगों को घर मिलेगा। उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा नई टाउनशिप योजना के तहत लोगों को घर मुहिया कराया जाएगा। जिसमें सरकार की घोषणा के मुताबिक 12 से अधिक शहर हैं जहां पर लोगों के लिए सरकार द्वारा नई टाउनशिप का निर्माण किया जाएगा। और बेघर लोगों कि लिए घर बनाया जाएगा, इस योजना की शुरूआत जल्द ही की जाएगी। इस विषय पर तेजी से कार्य चल रहा है। जिन लोगों के पास रहने का घर नहीं है वह इस योजना के तहत लाभ ले सकते हैं।

up news 12 city policy
up news 12 city policy

UP NEWS

आपको बता दें कि राज्य के दर्जनभर से अधिक शहरों में उत्तर प्रदेश सरकार योगी आदित्यनाथ छोटे – बड़े सभी शहरों में नई टाउनशिप विकसित करेगें। राज्य भर में कई सारे प्रधिकरण हैं जो इस प्रकार की योजनाओं के लिए कार्य करती हैं। परंतु वित्तीय संकट के चलते बहुत सी प्रधिकरण कार्य करने में असमर्थ हैं। और बहुत से कार्य जो चल रहे हैं वह अभी स्थगित हैं। लेकिन उत्तर प्रदेश सरकार योगी आदित्य नाथ प्रधिकरणों को भूमि अर्जित करने के लिए 50 प्रतिशत का अनुदान करेगी। जिससे जिन प्रधिकरण के कार्य रुके हुए हैं वह कार्य निरंतर चलता रहे। और जल्द से जल्द नई टाउनशिप तैयार हो जाए। पहले राज्य में सात ही नई टाउनशिप का निर्माण होना था। परंतु अब उसे उत्तर प्रदेश सरकार ने बढ़ाकर एक दर्जन कर दिया है।

उत्तर प्रदेश टाउनशिप पालिसी

नई टाउनशिप के निर्माण के लिए उत्तर प्रदेश सरकार जिन प्रधिकरण के पास भूमि नहीं है। उन सभी प्रधिकरण को भूमि अर्जित करने के लिए 50 प्रतिशत का आर्थिक मदद करेगी। जिसके बाद ही नई टाउनशिप निर्माण का कार्य शुरू हो जाएगा। जिसमें अयोध्या, वाराणसी और अन्य जिलों में कम कीमतों में घर खरीदने की सोच रहे हैं। तो बहुत ही जल्द उत्तर प्रदेश सरकार आपको आपके पसंद का आशियान देने के लिए काम कर रही है। नई टाउनशिप तैयार होने के बाद सरकार उन सभी जरूतमंद लोगों को घर प्रदान करेगी। जो झुग्गी झोपड़ी और टूटे फूटे मकान में रहते हैं। उन सभी लोगों को उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा नया घर प्रदान किया जाएगा।

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.