UPSC IAS : पढ़ाई में नहीं लगता था मन, फिर भी कैसे बन गए आईएएस अफसर

UPSC IAS Motivation : लोक सेवा आयोग द्वारा IAS Officer के पदो पर समय समय पर भर्तीया जारी की जाती है ,ऐसे मे आईएएस अफसर बनने का सपना हर किसी के मन मे होता है और एक बडे अधिकारी की सबसे बडी पावर IAS Officer ही होता है, जिसे प्रधानमंत्री और राष्ट्रपति के बाद ही ये एक ऐसा पद ही जिसमे पावर और सम्मान की कोई कमी नही होती है, ऐसे मे आजके इस लेख मे IAS Motivation Story लेकर आए है, जिसमे हम कुमार अनुराग जो की एक IAS Officer है, जिनके विषय मे आज की कहानी है, तो कृपया ध्यानपूर्वक पढेगे तो आपके लिए बेहतर ढंग से समझ आएगा।

UPSC IAS STORY

IAS Motivation

कुमार अनुराग के IAS Officer बनने के सफर आसान नही था ऐसे मे अनुराग ने अपनी 10वी और 12वीं की परीक्षा मे काफी ज्यादा बेहतर अंक नही थे और उनका अधिकारी बनने का कोई सपना भी नही था पर Graduation के एक ऐसे पडाव मे उनकी जिन्दी बदल दी ऐसे मे अनुराग जी द्वारा अपनी हाई स्कूल और इंण्टर मे बडी मुश्किल से अच्छे अंक अर्जित कर पाए थे जिसके बाद उन्हे अपनी पढाई को जारी रखने के लिए Graduation करना बहुत ही ज्यादा जरुरी था। और उनका दाखिला एक प्रतिष्ठत कालेज मे हुआ जहॉ पर पढाई का माहौल न होने कारण पढाई पूरी तरह खराब हो गई और परीक्षा के दौरान जब रिजल्ट आया तो वे 2 विषय मे ग्रेजुएशन मे फेल हो गए थे ऐसे मे उनका मन उदास हो गया था और भविष्य को लेकर चिंता की भावना उठ गई।

IAS Officer बनने की शुरुआत

चिंता की भावना उठने के बाद अनुराग जी के मन मे यह फेल होने की समस्या बहुत बडी थी ऐसे मे उन्होने दिन रात पढाई को ध्यान देकर शुरु किया तरह तरह की हथकंडे अपनाकर दैनिक पढाई का माहौल बनाया फिर

एक दौर ऐसा भी था जब अनुराग ग्रेजुएशन में कई विषयों में फेल हो गए थे, लेकिन कड़ी मेहनत के साथ उन्होने पीजी की पढाई पूरी की और दृढ़ निश्चय की बदौलत उन्होंने यूपीएससी जैसी परीक्षा पास कर अपना सपना पूरा कर लिया उन्होने UPSC Exam के प्रथम प्रयास मे ही उन्होने इस परीक्षा का पास भी कर लिया था पर उन्हे IAS सेवा नही मिली फिर उनके मन मे ख्याल आया की मेहनत से मै 0 से हिरो बन तो गया पर कुछ ठीक पहले तक पहुचा और इस प्रयास से उन्होने दोबारा UPSC Exam दिया और आल इंडिया रैंक मे 48 वीं रैक हासिल कर ली फिर उन्हे IAS Officer बनने का सपना मेहनत के बल पर पूरा कर लिया।

ध्यान दे : इस कहानी से आपको सीख मिलती है, की मेहनत ही वह मुख्य गहना है जिससे सभी कुछ जीता जा सकता है और IAS Motivation कहानी आपको कैसे लगी इस बारे मे नीचे कमेंट मे हमे जरुर बताए तथा इस कहानी को किसी अन्य को जरुर शेयर करे।

अपने प्रश्न पूछे
frontpage hit counter