UPSRTC Bharti : परिवहन विभाग मे 10वीं पास बस कंडक्टर के बम्पर पदो पर भर्ती 23,000 रुपये सैलरी से शुरु

UPSRTC Bharti 2022– आप सभी उम्मीदवारों के लिए बहुत ही अच्छी भर्ती निकलकर आई है। तो आप अगर उत्तर प्रदेश राज्य सड़क परिवाहन निगम में नौकरी करना चाहते हैं। तो उत्तर प्रदेश राज्य सड़क परिवाहन निगम बहुत जल्द रिक्त पदों पर बंम्पर भर्ती करने जा रहा है। तो यह आपके बहुत ही अच्छी व महत्वपूर्ण भर्ती का अवसर प्राप्त होने वाला है। मुख्य मंत्री के आदेश के बाद निगम प्रशासन ने खाली पदों का ब्योरा तैयार किया है। शासन से दिशा निर्देश मिलते ही भर्ती प्रक्रिया शुरू कर दी जाएगी। इससे सम्बन्धित पूरी जानकारी इसी पोस्ट के माध्यम से विस्तार से पढ़ें।

UPSRTC BHARTI DETAILS

UPSRTC Bharti 2022

आपको बता दें कि उत्तर प्रदेश राज्य सड़क परिवाहन निगम तीन हजार संविदा पर बस कंडक्टरों की भर्ती करने जा रहा है। इसके लिए प्रदेश भर के क्षेत्रीय अफसरों को मंजूरी दे दी गई है। भर्ती प्रक्रिया जेम पोर्टल के जरिए होगा। जसमें महीने में कम से कम पांच हजार किलो मीटर बस संचालन करने वाले संविदा कंडक्टरों को एक रूपये 59 पैसा प्रति किलोमीटर की दर से हर महीने भुगतान किया जाएगा। इच्छुक उम्मीदवारों की शैक्षित योग्यता इंटरमीडियट के साथ थ्री सी प्रमाण पत्र होना जरूरी है।

UPSRTC Bharti Details

महीने में 22 दिन ड्यूटी करके न्यूनतम पांच हजार किलो मीटर बस संचालन पर 7950 रूपये वेतन के साथ 13 फीसदी अंशदान ईपीएफ भी मिलेगा। परिवाहन निगम के एमडी एके सिंह ने बताया कि प्रदेश भर में तीन हजार संविदा बस परिचालकों की भर्ती करने का निर्णय लिया है।

उत्तर प्रदेश परिवाहन निगम की बसों में पहिलाएं अब आसानी से संविदा पर कंडक्टर बन सकेंगी। निगम ने कंडक्टर के पदों पर महिलाओं की भागीदारी बढ़ाने के लिए भर्ती के स्त्रोत योग्यता में फेरबदल नहीं किया जाएगा। संविदा कंडक्टर के लिए पहले से निर्धारित सात योग्यता स्त्रोतों को हटाकर अब सिर्फ एक कर दिया गया है। इस बाबत औपचारिक आदेश जारी होना बाकी है। यही नहीं आदेश जारी होते ही संविदा और नियमित कंडक्टर की भर्ती की शैक्षणिक योग्यता भी एक समान इंटरमीडिएट हो जाएगी। वहीं, नए आदेश से फर्जी प्रमाण पत्र के जरिये कंडक्टर बनने पर भी अंकुश लग सकेगा।

UPSRTC Bharti Eligibility

नई स्त्रोत योग्यता के तहत इंटरमीडिएट उत्तीर्ण और सीसीसी प्रमाण पत्र धारक अभ्यर्थी ही संविदा पर कंडक्टर बनने के लिए आवेदन कर सकेंगे। इससे महिला आवेदकों की संख्या में बढ़ोतरी की उम्मीद की जा रही है। सीसीसी प्रमाण पत्र केंद्र व राज्य सरकार से मान्यता प्राप्त संस्था से होना चाहिए। गैरतलब है कि वर्तमान में परिवहन निगम के पास 12 हजार बसें हैं और लगभग 35 हजार संविदा कंडक्टर काम कर रहे हैं।

अपने प्रश्न पूछे
frontpage hit counter