Interesting Fact : भारत मे आप इतने रुपये मे हेलीकाप्टर खरीद सकते है, देखलो मात्र इतने मे

Interesting Fact : हेलिकाप्टर और हवाई जहाज तथा फाईटर प्लेन ये तीनो का काम अलग अलग होता है, पर ऐसे मे भारत मे अगर हम हेलिकाप्टर खरीदते है, तो यह कितने रुपये मे मे कौन सा माडल हमे मिलेगा इस बारे मे आज के लेख मे पूरी जानकारी को विस्तार से बताएग इस इंट्रेस्टिंग फैक्ट को की भारत मे हेलीकाप्टर कितने मे मिलेगी तथा क्या क्या जरुरी दस्तावेज लगेगे और कैसे आप किसी हेलीकाप्टर के मालिक बन सकते है, इस बारे मे पूरी जानकारी को एक एक करके हमने खोजा और आपके लिए लेकर आए है, तो ध्यान से पढे और समझे।

helicopter new rate
helicopter new rate

Interesting Facts

हेलीकाप्टर और प्लेन खरीदने के लिए भारत मे बहुत से लोग सपना देखते है, पर अधिकतर लोग खरीदने मे सझम तो है, पर जानकारी नही है की किस प्रकार से कैसे और कहॉ से इसे खरीदा जा सकता है, हेलीकॉप्टर का उपयोग वायुसेना के अलावा बड़े बड़े बिजनेसमैन और सेलेब्रिटीज अपने सफर के लिए करते हैं. हेलीकाप्टर कई प्रकार के उपलब्ध है, पर भारत मे अधिकतर बडे बडे लोगो के पास पाए जाने वाले हेलीकाप्टर जैसे – Airbus Helicopters, Bell Helicopters, Leonardo Helicopters, Robinson, Sikorsky. इनमें हर मॉडल के हेलीकॉप्टर की क्षमता अलग-अलग होती है.

कुछ बहुचर्चित भारत मे आसानी से मिल जाने वाले हेलीकाप्टर की लिस्ट इन मॉडल्स में उपल्बध हैं, H125, H135, BELL 505, BELL 407, BELL 429, AW109 GRAND NEW, R44 और R66.

Helicopter का रेट क्या है

तो उसके लिए भारत में एक नॉर्मल हेलीकॉप्टर रोबिनसन R-22 भी है। जिसकी कीमत करीब 2,50,000 US डॉलर है। अगर इन डॉलर को रुपयों में परिवर्तित किया जाए तो यह हेलीकाप्टर करीब 1,71,23,750 रुपयों का है। यह सबसे सस्ता हेलीकाप्टर है, जिसको आप मात्र 2 करोड रुपये के अन्दर भी खरीद सकते है, पर इसके लिए आपको कुछ अन्य खर्च और मेंटेनेंस के बारे मे भी जानकारी होनी चाहिए।

उपलब्ध हेलीकाप्टर अगर आप रखते है, तो आपको 70 हजार से 1 लाख रुपये महीना मेंटेनेंस व पायलट चार्ज देना पडेगा। इसके लिए आपको पहले व्यक्ति को DGCA से अनुमति प्राप्त करनी होती है। उसके बाद आपको ग्रह मंत्रालय से भी NOC प्राप्त करनी होगी।

Follow Google News Click Here
Whatsapp Group Click Here
Youtube Channel Click Here
Twitter Click Here

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.