Marriage New Rule : शादी का नया नियम कानून सभी धर्मो के लिए लागू, 10 साल तक की सजा

Marriage New Rule : शादी विवाह करने के सभी धर्मो के लिए अलग अलग नियम बनाए गए है, ऐसे मे प्रतिदिन हजारो लोगो की शादी होती है, तथा शादी के लिए कुछ जरुर कानूनी नियम भी जारी किए गए है, जिसमे कई प्रकार के कानूनी नियम होते है, जिसको प्रत्येक नागरिक को मानना जरुरी होता है, ऐसे मे ही अभी कोर्ट द्वारा Anti Conversion Law की जारी किया गया है, जिसको तोडने पर आपको 10 साल की सजा हो  सकती है, ऐसे मे आप अगर भारत के नागरिक है, तो आपको इस नए नियम के बारे मे पूरी जानकारी विस्तार से पता होनी चाहिए।

marriage law rules
marriage law rules

Marriage New Rule

शादि विवाह मे धर्म परिवर्तन विरोधी कानून लागू हो गया है, ऐसे मे अब राज्य मे सिर्फ शादी के लिए धर्म नही बदल सकते है। यह नियम अभी केवल हरियाणा राज्य मे लागू किया गया है, जिसमे इस कानून को तोडने वालो के ऊपर 10 साल की सजा होगी। इस नए नियम को हरियाणा सरकार ने विधेयक मे 1 दिसम्बर मे कैबिनेट मीटिंग मे इसके लिए नियम तय किए गए है।

Marriage Law Rules

इस Anti Conversion Law को तोडने वालो के ऊपर सजा के लिए कुछ मुख्य बिन्दु है, जिसे ध्यान दे. इसकी पुष्टि होने पर दोषी को अधिकतम 10 साल तक की सजा हो सकती है, वहीं, अगर आरोपी व्यक्ति का निधन हो जाता है तो उसकी अचल संपत्ति बेची जाएगी और पीड़ित की आर्थिक मदद की जाएगी इसके साथ ही पीड़ित को गुजारा-भत्ता भी देना होगा।

एक बार से अधिक जबरन धर्मांतरण में पकड़े जाने पर दस साल की सजा और 5 लाख रुपये जुर्माना होगा। इसी तरह, धर्म परिवर्तन के बाद विवाह से जन्मे बच्चों को भी भरण-पोषण के लिए आरोपी व्यक्ति ही जिम्मेदारी होगा और बालिग होने तक आर्थिक मदद करनी होगी। इस अपराध को करने वाले व्यक्ति के लिए यह गैर जमानती होगा।

Follow करें  Click Here