जरुर पढे: आखिर क्यो असफल होते है छात्र ?

Hello Students, आज का यह लेख मुझे लिखना पडा जिसमे विद्यार्थीयो की तैयारी से लेकर उनके भविष्य तक की रणनिति और जीवन चक्र का वर्णन किया गया है, कुछ समस्याए और कुछ जान बुझ कर की गई गलतीयो के कारण भविष्य खतरे मे पड जाता है तो इन पूरी रुप रेखा से निकलने के लिेए पूरी जानकारी देगे कि वास्तव मे ज्यादा तर छात्र क्यो असफल हो जाते है?

जीवन का लक्ष्य तय न होना?

आप मे से बहुत से विद्यार्थी ऐसे होगे जो अभी केवल 10th/12th/Graduation/Preparation कर रहे होगे पर वह केवल परीक्षाए और पैसे के चक्कर मे अपना लक्ष्य तय नही कर पाते है, कि हम क्या करे कि जिससे अच्छी सफलता प्राप्त हो सके कोई अच्छी राय भी नही देता है, जब तक आप उस लक्ष्य का सही से आकलन नही करते है, पहले आप अपनी काबिलियत को देखे फिर निश्चय करे कि हॉ ! मै यह काम अगर करुगा या ये तैयारी करुगा तो मुझे Selection मिल जाएगा, अब आगे की Heading मे पढे Selection प्राप्त करने के लिए क्या करें।

तैयारी की पूरी जानकारी न होना?

आज ऐसे बहुत से विद्यार्थी मिल जाएगे की वह जिस तरह कि तैयारी कर रहे है, क्या उन्हे उस तैयारी की पूरी जानकारी है, कितनी उम्र लगती है, कितना समय लगता है, क्या पढा जाता है, कहॉ से प्रश्न पूछे जाते है आदि बहुत से सवाल रहते है। हमारी इस Team मे मै केवल अकेला व्यक्ति हुँ, अगर आपने किसी प्रकार का सवाल पूछा तो मै आपके सवालो के जवाब किसी Teacher/Students/Experts/Internet से ठुढ कर उनके जवाब को जल्दी और सरतम रुप से दे सकु की जिससे तैयारी को सही और अच्छी राय मिल सके।

ऊँची मह्त्वाकांक्षाएँ

बहुत से छात्र अन्य छात्रो का अनुसरण करते हुए, किसी अभीष्ट परीक्षा की तैयारी हेतु, कोचिंग संस्थाओ मे प्रवेश ले लेते है, बिना यह सोचे हुए कि वे इतेने सझम है भी या नही । जैसे छात्र IIT & CAT परीक्षाओ की तैयारी हेतु अपने शहर या अन्य शहरो मे जाकर कोचिंग संस्थाओ मे प्रवेश ले लेते है। ऐसे छात्रो मे से अधिकांश छात्रो की नींव बहुत कमजोर होती है। छात्र जीवन के बाद, जीवन मे इतनी तरह की व्यवस्तताएँ बढ जाती है सामाजिक या आर्थिक बन्धन इतने हो जाते है कि फिर विरसे ही लोग आगे पढाई करने की हिम्मत जुटा पाते है।
आजकल जगह-जहह पर शहरो मे ऐसे कोचिंग संस्थान खुले पडे है, जो छात्रो की इस तरह की महत्वाकाक्षाओ के बलबूते आज करोडो रुपये कमा रहे है। ऐसे छात्र जिनका कक्षा 12 मे प्राप्त अंक पर्तिशत मात्र 60% – 70% तक ही होता है वे IIT जैसी परीक्षा की तैयारी होतु कोचिंग संस्थान मे प्रवेश ले लेते है उन्हे वास्तविक रुप से 90%-95% अंक प्राप्त छात्रो से स्पर्धा करना होती है. अधिकांशयतया परीणाम जब आता है तो ऐसे कमजोर नींव वाले धात्र फेल हो जाते है कोंचिग संस्थान मात्र छात्रो को सहारा प्रदान करते है, वास्तविक रुप में तो सफलता छात्रो की स्वयं की मेहनत एवं लगन पर निर्भर है।


जरा सोचे ?

एक छात्र जिसने कक्षा 12 मे मात्र 60%-70% तक ही अंक प्राप्त किए है क्या वह कोचिंग संस्थान के बल पर 90%-95% अंक प्राप्त करने वाले छात्र से मुकाबला कर सकता है।
इसी तरह स्नातक तक औसत अंक प्राप्त करने वाला छात्र जिसकी न अंग्रेजी बहुत अच्छा है न गणति बहुत अच्छा है बह जब CAT की परीक्षा हेतु किसी कोंचिग संस्तान मे प्रवेळ लेता है तो उने मेधावी छात्रो के मुकाबला करना होता है जो अंग्रेजी एवं गणित मे उससे बहुत आगे है।
आपके द्वारा नष्ट किया समय, आपको ही तो दु:ख देगा। इसी पर्ाकार CAT या अन्य किसी प्रतियोगता परीभा मे सफलता की महत्वकांक्षा रखने वाले धात्रो को अपना आकलन, उन छात्रो के सापक्ष मे करना होगा, जो उनसे बहुत श्रेष्ठ है।
हम यह नही कहते की, मेहनत करने से आप श्रेष्ठतर स्तर को प्राप्त नही कर सकते है। कर सकते है, अवश्य कर सकते है लेकिन आपकी महत्वाकांक्षााए आपके स्तर के अनुकूल ही होनी चाहिए।


याद रखे

असफलता का कराण उच्च महत्वाकांक्षा नही, बल्कि कमजोर नींव है और कमजोर नींव पर कभी बहुमंजिली इमारत नही बन सकती है।

SarkariHelp.com का लक्ष्य

आज के दौर मे आधुनिक Internet और Smart तरीको का जमाना है, पर अभी भी कुछ लोग अपनी तैयारी को सही और सुचारु रुप से इन सबसे दुर रखकर अपनी तैयारी करना पसंद करते है, हम अभी नए जरुर है, पर कुछ ही दिनो मे आपकी सबसे भरोसेमंद और तैयारी की सबसे अच्छी Website मे से Top पर होगे, जल्द ही हमारे Android Apps आने वाला है, और भी बहुत कुछ बदलाव होगे सब कुछ Free मे रहेगा प्रत्येक चीजो की जानकारी तुरन्त उपलब्ध हो जाया करेगी जिससे आप अपनी तैयारी करने मे व्यर्थ मे पैसे न बहाए बल्कि उन्हे अच्छे काम मे लाकर उसका सही उपयोग कर सके नौकरी और तैयारी की किताबे और कोचिंग संस्थान मे बहुत से ऐसी है, जिन्हे केवल पैसे कमाना है, वह किसी भी हद तक जा सकते है, इसलिए अच्छा पढे पर सटीक पढे और पढाई अभी भी मंहगी नही हुई है, बस अपनी अपनी सोच है, कोई अच्छी चिजे लेता है, तो कोई टिकाउ चिजो पर विश्वास करता है।

हमे बताए क्या चाहिए आपको ?

हमे नीचे Comment करे अपने प्रश्नो को हम उपलब्ध कराने की कोशिश करेगे हमारी Students Com-unity को Join करे ऊपर Facebook Group है, Join करके सीधे विद्यार्थियो से अपने प्रश्नो को साझा करे आप अपने Facebook Profile पर अच्छी अच्छी जानकारी पा सकते है, Subscribe करके भी शायद किसी दिन आपके लिए कुछ अच्छी जानकारी आपको मिल जाए तो देर न करे एक एक समय को किमती समझे जिससे अच्छा Result मिले।

ध्यान दे : नीचे दिए गए Facebook, Whatsapp बटन के माध्यम से आप इसे Share भी कर सकते है, एक Share से किसी को अच्छी जानकारी दे।

Disclaimer: SarkariHelp.com केवल Educational Purpose शिक्षा क्षेत्र के लिए बनाई गई है, तथा इस पर उपलब्ध कुछ पुस्तक/Notes/PDF Material/Books का मालिक नहीं है, न ही बनाया और न ही स्कैन किया है। हम सिर्फ Internet पर पहले से उपलब्ध Link और Material प्रदान करते हैं। यदि किसी भी तरह से यह कानून का उल्लंघन करता है या कोई समस्या है तो कृपया हमें Mail करें [email protected]

15 Comments

Leave a Comment