Chandrayaan 3 BIG NEWS : चन्द्रयान 3 लान्च अभी अभी बडी खबर भारत को होने वाला है, बहुत बडा फायदा ये पढो

CHANDRYAN 3  New Update : चन्द्रयान-3 के लैंडिग होते ही पूरे विश्व मे झण्डा गाडेगा भारत देश ISRO का कहना है कि चन्द्रयान-3 के सफलतापूर्वक लैंडिंग होते ही, भारत कई उलब्धिया हासिल करेगा होगा भारत का बहुत ही बडा फायदा जो कभी सोंचा भी नही था आस-पास के पडोसी देश ऐसा करने वाला वह पहला देश होगा। तो चलिए दोस्तो आज हम इस लेख की मदद से आपको चन्द्रयान-3 के बारे मे पूरी जानकारी देंगे कि आखिर लैंडिग होते ही क्या होगा फायदा नीचे लिखे लेख को ध्यान पूर्वक अवश्य पढे।

chandryaan 3 biggest news
chandryaan 3 biggest news

Chandryaan 3 BIG NEWS

सबसे पहले तो आपकोपता होना चाहिए की चन्द्रयान-3 की लैंडिग का समय बदल दिया गया है, यह अब तक की सबसे बडी खबर है सभी की निगाहे सिर्फ और सिर्फ चन्द्रयान-3 पर। चांद से चंद कदम की दूरी पर है हमारा चन्द्रयान-3, चांद पर उतरने का काउंटडाउन भी शुरू हो चुका है,  तमाम चुनौतियो को समय से पहले ही भाप रहा बिक्रम और LUNA के फेल होते ही चंद्रयान-3 रचेगा इतिहास, आइए जानते है कारण अब कितनी है स्पीड और कब होगी चांद पर लैंडिग, दोस्तो पिछले 4 सालो से 4 देश चांद पर उतरने मे फेल हुए चीन पहली बार मे सफल रहा लेकिन सिर्फ भारत ही वापस दूसरी बार हिम्मत जुटा सका अभी कल ही रूस का लूना -25 क्रैश हो गया है। लेकिन भारत का चन्द्रयान-3 ऊपर उठ चुका है,

और लैडिंग से दो दिन पहले चन्द्रयान-3 ने भेजी नजदीक से चांद की नई तस्वीर तो ऐसे मे 23 अगस्त 2023 की शाम साढ़े पांच बजे के बाद से साढ़े छह बजे के बीच Chandrayaan-3 का लैंडर किसी भी समय चांद की सतह पर सफलतापूर्वक उतर सकता है. वजह ये है कि लैंडर पूरी तरह से ऑटोमैटिक है. वह लैंडिंग की जगह खुद खोजेगा. फिर लैंड करेगा। इसकी वजह ये है की जिस समय शाम को वह लैंड करेगा उस समय सूरज उगता रहेगा। सूरज की रोशनी से ही वह चलेगा इसी करण शाम को लैंड किया जा रहा है। तो ऐसे मे भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (ISRO) का कहना है की मिशन चंद्रयान-3 इतिहास बनाने से बस कुछ ही कदम दूर है. चंद्रयान-3 का लैंडर विक्रम चांद की सतह पर उतरने के लिए पूरी तरह तैयार है और ये 23 अगस्त को सेफ लैंडिंग करेगा।

नया टाइम लैंडिंग का और भारत का फायदा रचेगा इतिहास

भारत के चन्द्रयान-3 के उतरते ही एक इतिहास और यादगार होगा, जो न केवल जिज्ञासा को बढावा देगा बल्की साथ ही देश के सभी युवाओ के मन मे एक जुनून भी जगाएगा तो ऐसे मे लूना के क्रैश होते ही चन्द्रयान-3 का रास्ता हुआ साफ शार्टकट रास्ते के चक्कर मे फसा लूना। ऐसे मे भारत का चन्द्रयान-3 23 अगस्त को शाम 6 बजकर 4 मिनट पर लैंडिंग करेगा फिर रोवर रैंप से बाहर निकल कर 14 दिन तक चांद पर प्रयोग करेगा। तो ऐसे मे चन्द्रयान-3 17 मिनट देर से चन्द्रमा पर लैंड करेगा विक्रम ISRO ने बदला टाइम। पहले का लैंडिंग टाइमिंग 5 बजकर 47 मिनट रखा था लेकिन अब 6 बजकर 4 मिनट मे सफलतापूर्वक लैंड करेगा। इससे भारत कई उपलब्धियाँ भी हासिल करेगा जिससे वह सब देशो से पहले यह कारनामा करने वाला पहला देश बनेगा और 14 दिन के खोज मे भी भारत सबसे अलग करके दिखाएगा। जिससे भारत के लोगो को सभी का होगा इस मिशन से फायदा।

Follow Google News Click Here
Whatsapp Group Click Here
Youtube Channel Click Here
Twitter Click Here

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.