One School One ID : देशभर के सभी छात्रो के लिए जरुरी अब एक स्कूल एक आईडी नया नियम

न्यूज डेस्क, नई दिल्ली : केंद्र सरकार द्वारा स्कूलो और कालेजो मे पढने वाले छात्र एवं छात्राओ के लिए मोदी सरकार ने बहुत बडी खुशखबरी दी है, जिसमे ज्यादातर सभी स्कूल भी इस नए नियम को लागू करने के लिए राजी भी हो चुके है क्योकी भारत मे स्कूली बच्चो के लिए एक स्कूल एक आईडी योजना की शुरुआत करने जा रही है, जिसके अन्तर्गत लाखो छात्राओ को इस One School One Id से काफी ज्यादा लाभ के साथ साथ सरकार द्वारा बनाई जाने वाली इस आईडी को ऑटोमेटेड परमानेंट एकेडमिक अकाउंट रजिस्ट्री (एपीएएआर) कहा जाता है। नीचे इसके बारे मे सम्पूर्ण जानकारी उपलब्ध है, आशा है, आपको यह जरुर पढना चाहिए।

ONE SCHOOL ONE ID START
ONE SCHOOL ONE ID START

जाने इस पोस्ट में क्या क्या है

One School One ID

आधार की तरह छात्र-छात्रों का एक यूनिक कोड होगा। केंद्रीय शिक्षा मंत्रालय ने प्री-प्राइमरी से लेकर उच्च शिक्षा तक वाले सभी के लिए यह अनिवार्य होगा। इस आईडी से देश के हर स्टूडेंट का सारा एकेडमिक रिकॉर्ड, स्पोर्ट्स एक्टिविटीज, एक्स्ट्रा करीकुलर एक्टिविटीज या अन्य शैक्षणिक गतिविधियों का सारा डेटा एक साथ आसानी से मिल सकेगा। उपलब्ध कार्ड बनवाने के लिए सरकार ने कई अन्य एजेंसीयो द्वारा इस कार्य को पूरा करने के लिए पूरी तैयारी कर ली है।

One School One ID क्यो जरुरी : इस आईडी का मुख्य प्रयोग स्कूल की सभी एक्टीविटी के साथ साथ बच्चो की पहचान शुरुआत से लेकर नौकरी तक काम आएगी इसकी शुरुआत केंद्रीय विद्यालय से शुरु करके धीरे धीरे सभी सरकार स्कूलो और अन्य स्कूलो के लिए अत्यन्त आने वाले समय मे जरुरी किया जा सकता है।

One School One Id से लाभ

उपलब्ध आईडी अगर आप किसी भी सरकार या गैर सरकार स्कूल और कालेज मे पढेगे और आपकी यह आईडी अगर बनी है, तो आपको किसी भी अन्य जानकारी देने की जरुरत नही पडेगी इस एक आईडी की मदद से आपकी सभी कुछ महत्वपूर्ण अपडेट, रिजल्ट, एक्टिविटी, अटेंडेंट, चरित्र व अन्य सभी चीजो के बारे मे एक कोड के माध्यम से आसानी से पता चल जाएगा ऐसे मे यह आने वाले शिक्षा क्षेत्र के लिए काफी अन्य कार्यो के लिए बहुत ही ज्यादा काम आने वाला है।