Chandrayaan 3 Big NEWS : चन्द्रयान 3 अभी अभी बहुत बडी खबर पूरे देशभर के लोग ध्यान दें बडी अपडेट

Chandrayaan 3 Big NEWS : दोस्तो आपको तो पता है की Chandrayaan 3 को भारत ने 14 जुलाई को श्री हरीकोटा से सफलता पूर्वक लॉच किया था तो ऐसे मे ISRO के वैज्ञानिक हर रोज पूरे देश को चन्द्रयान-3 की सूचना देते रहते है। तो ऐसे मे चन्द्रयान-3 के लिए इस समय बहुत ही चुनौती पूर्वक आगे का सफर बॉकी है क्या कर पाएगा आगे के 25 किलो मीटर का सफर, समाचार पत्रो के जरिए मिली सूचना के अनुसार ये बन सकते है चन्द्रयान-3 के लिए बाधा। तो चलिए दोस्तो आज हम इस लेख की मदद से चन्द्रयान-3 के बारे मे पूरी जानकारी देंगे कि क्या सफलतापूर्वक लैण्डिंग कर पाएगा। पूरी जानकारी के लिए नीचे अवश्य पढे।

chandrayaan 3 big news
chandrayaan 3 big news

Chandrayaan 3 Big NEWS

दोस्तो इस समय चन्द्रयान-3 चन्दा मामा के बहुत ही करीब पहुंच गया है, पूरी दुनिया को यह साबित करने वाला है कि भारत की ISRO भी यह कारनामा कर सकता है। अगर यह सफलता पूर्वक चन्द्रमा मे लैण्ड करता है तो यह पूरी दुनिया मे ऐसा करने वाला चौथा देश बन जाएगा भारत तो ऐसे मे चांद की सतह से केवल 25 किलोमीटर की दूरी पर चांद के चक्कर लगा रहा है। ISRO ने ट्वीट कर बताया कि चंद्रयान-3 का दूसरा और अंतिम डीबूस्टिंग मनूवर सफलतापूर्वक हो चुका है, और अब 23 अगस्त का इंतजार है।

जब चांद की सतह पर सॉफ्ट लैंडिंग के साथ ही भारत इतिहास रच देगा और ऐसा करने वाला दुनिया का चौथा देश बन जाएगा। अभी तक अमेरिका, रूस और चीन ने ही चांद की सतह पर सॉफ्ट लैंडिंग करने में सफलता हासिल की है। ऐसे मे हमारे चन्द्रयान-3 के लिए आगे के 25 KM तय करना बहुत ही संघर्ष मई है। दोस्तो आपको पता है की रूस भले ही हमारे देश भारत का दोस्तो हो लेकिन वह अपनी कोई कसर नही छोडी है। चन्द्रयान-3 मे बाधा बनने के लिए। ऐसे मे उसने अपना भी एक लूना-25 के नाम से मिसन लॉच किया था जो Chandryaan से 2 दिन पहले लैण्डिग कर जाएगा।

चन्द्रयान 3 पर बडी खबर

तो ऐसे मे भारत को सबसे ज्यादा डर इस बात का था की जिस दिसा मे भारत को लैण्ड करना था उसी दिशा मे रूस भी अपना लूना 25 को भी लैंडिग के लिए रवान कर दिया, इससे सभी यह चिंतित थे की कही भारत के चन्द्रयान से टकरा न जाए क्योंकि चन्द्रयान-3 के बाद लॉचिग और पहले पहुंचना सभी देशवाशियो के लिए चिंता का सबब बन रहा था। लेकिन अब चांद से सिर्फ 25 किलोमीटर दूरी पर है. उधर रूस का लूना-25 मून मिशन तकनीकी गड़बड़ी की वजह से रास्ते से भटक गया है. रूसी स्पेस एजेंसी उससे संपर्क स्थापित करने का प्रयास कर रहे है। लेकिन अगर तकनिकी खराबी होती है तो रूस के लूना-25 साफ्ट लैण्डिंग नही कर पाएगा। और हमारा चन्द्रयान-3 पहले पहुंच जाएगा।

Follow Google News Click Here
Whatsapp Group Click Here
Youtube Channel Click Here
Twitter Click Here

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.