Join Telegram GroupJoin Now
WhatsApp GroupJoin Now

Bijli Bill NEWS : 1 सितम्बर से अब बिजली बिल आधा हो जाएगा सरकार ने लागू किया नया नियम सभी लोग ध्यान दें

Bijli Bill NEWS : सरकार ने कर दिया सभी बिजली उपभोक्ताओ के लिए बडी खुशखबरी का ऐलान बिजली बिल आने पर अब देना होगा बिल आधा। तो ऐसे मे सरकार ने इस पर कुछ बडे नियम लागू किए है जो सभी को जानना बहुत ही जरूरी है ऐसे मे बिजली बिल से परेशान किसानो से लेकर आम लोगो के लिए सरकार ने कर दिया बडी घोषणा तो चलिए दोस्तो आज हम इस लेख की मदद से आपको इस नियम के बारे मे पूरी जानकारी देंगे किसका होगा बिल माफ या आधा बिल पूरी जानकारी के लिए नीचे लिखे लेख को ध्यान पूर्वक अवश्य पढे।

BIJLI BILL 50% Discount
BIJLI BILL 50% Discount

Bijli Bill NEWS

बिजली बिल से परेशान सभी किसान व आम जनता तो इसके लिए सरकार ने उठाए बडे कदम अब परेशान होने की कोई बात नही बिल आने पर देना होगा बिजली बिल आधा, 1 सितंबर से नया नियम लागू तो ऐसे मे इस पर सरकार के कुछ नियम बनाए गए है, जो सभी को जानना बहुत ही रूरी है, लेकिन उससे पहले हम और भी कुछ जान लेते है। तो ऐसे मे वर्तमान समय में गरीब हो या अमीर हर व्यक्ति अपने घर में बिजली का इस्तेमाल कर रहा है आज बिजली हमारे दैनिक जीवन के लिए एक बहुत ही महत्वपूर्ण चीज हो चुकी है। हम सभी अपने घरों या ऑफिस में जितनी बिजली इस्तेमाल करते है।

हर महीने हमें उतना बिल पेमेंट करना पड़ता है लेकिन गरीब एवं जरूरतमंद नागरिकों को बिजली बिल चुकाने में काफी दिक्कत का सामना करना पड़ता है। लेकिन छत्तीसगढ़ राज्य सरकार ने हाफ बिजली बिल योजना के तहत मिलने वाले लाभ से लोगों में काफी ज्यादा खुशी है. आपको बता दें कि इस योजना से 65 लाख से ज्यादा परिवारों को रियायती बिजली का लाभ मिल रहा है. इसके लिए उपभोक्ताओं को आधे पैसे ही देने होंगे।

सीएम ने दी बडी खुशखबरी

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने सोमवार को विधानसभा में स्पष्ट किया है कि घरों में 400 यूनिट तक बिजली खपत पर आधा बिल ही देना होगा। मतलब की घरेलू और BPL उपभोक्ताओं को 1 सितंबर से इसका लाभ मिलने लगेगा। यानी प्रति यूनिट 2.75 रुपए ही देना होगा। ऐसे मे 400 यूनिट से ज्यादा खपत करने वाले लोगो को 5.30रूपए प्रति यूनिट ही देना होगा। ऐसे मे यह छत्तीसगढ के लोगो के लिए बहुत ही बडी खुशखबरी है। और किसानो को भी इस योजना का लाभ मिल रहा है।

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.