UP NEWS : योगी का ऐलान गॉव वालो को पैसे कमाने का सुनहरा मौका औषधि केंद्र खोलो 30 हजार कमाओ

Uttar Pradesh News : उत्तर प्रदेश सरकार ने राज्य के सभी मरीजो के लिए कर दि बडी घोषणा ऐसे मे यूपी के हर जिलो के हर गाँव मे खोले जाएंगे औषधि केंद्र ऐसे मे यह 2024 तक मे हर गांव मे उपलब्ध कर दिया जाएगा, अब महंगी दवाईयो के बोझ से मुक्त होगा राज्य तो जलिए दोस्तो आज हम इस लेख की मदद से आपको उत्तर प्रदेस के इस औषधी केंद्र के बारे मे पूरी जानकारी देंगे की कैसे मिलेगी केंद्र से दवाईयाँ लेने के लिए क्या करना होगा हम इस पर पूरी जानकारी विस्तार से नीचे लिखें है नीचे लिखे लेख को ध्यान पूर्वक अवश्य पढे।

UP CM ALLOUNCE VILLAGER EARN MONEY
UP CM ALLOUNCE VILLAGER EARN MONEY

UP BIG NEWS

दोस्तो आज-कल सभी लोग सबसे ज्यादा परेशान घर के मरीजो से है अगर आपके घरो मे कोई भी बडी बिमारी है उस बिमारी का कोई शिकार है तो घरो मे सबसे ज्यादा समस्या होती है। तो ऐसे मे जिनके पास पैसा नही है इलाज के लिए तो उनको बहुत ही मुश्किलो का सामना करना पडता है तो ऐसे मे देश के प्रधानमंत्री श्री नरेंद्रमोदी और राज्य के मुख्य मंत्री श्री योगी आदित्यनाथ के इस योजना से राज्य के सभी मरीजो को एक बहुत ही बडी सुविधा होगी और एक जीवनदान भी मिलेगा। कुछ और जानते है इसके बारे मे सरकार जन औषधि केंद्र की संख्या बढ़ा रही है. मार्च 2024 तक देशभर में जन औषधि केंद्र की संख्या को बढ़ाकर 10,000 करने का लक्ष्य रखा गया है।

गावो मे अब औषधि केंद्र

आम लोगों के सर से महंगी दवाइयों के खर्च के बोझ को कम करने के लिए सरकार जन औषधि केंद्र खोल रही है. जन औषधि केंद्र खोलने के लिए सरकार ने तीन कैटेगरी बनाई है. जिसमे पहली कैटेगरी यह है कि कोई भी व्यक्ति, बेरोजगार फार्मासिस्ट, कोई डॉक्टर या रजिस्टर्ड मेडिकल प्रैक्टिशनर जन औषधि केंद्र खोल सकता है. और दूसरी कैटेगरी यह है कि ट्रस्ट NGO, प्राइवेट हॉस्पिटल आदि आते हैं. तीसरी कैटेगरी में राज्य सरकारों की तरफ से नॉमिनेट की गई एजेंसियों को जन औषधि केंद्र खोलने का मौका दिया जाएगा. अगर आप जन औषधि केंद्र खोलना चाहते हैं, तो आपके पास बी-फॉर्मा या डी-फॉर्मा की डिग्री होनी चाहिए. जन औषधि केंद्र खोलने के लिए अप्लाई करने के दौरान डिग्री को प्रूफ करना होगा।

औषधि केंद्रे से 20% कमाए

दोस्तो इस औषधि केंद्र को खोलने से लोगो की 20 प्रतिशत कमीशन की कमाई भी होगी और उनको इनसेंटिव भी दिया जाएगा। हर महीने 15 प्रतिशत बिक्री पर, तो ऐसे मे जो लोग इस योजना के तहत अगर केंद्र खोलते है तो उनको सरकार की तरफ से 1.5 लाख रूपए दिए जाएंगे की केंद्र मे लगने वाले फर्नीचर को आसानी से खरीद सके। और केन्द्र मे एक कम्प्यूटर के लिए भी सरकार वित्तीय मदद करेगी विलिंग के लिए और सारा डाटा सुरक्षित रखने के लिए। इसे खोलने के लिए आपको इसके ऑफिशियल साइट मे जाकर आवेदन करना होगा।

Follow Google News Click Here
Whatsapp Group Click Here
Youtube Channel Click Here
Twitter Click Here
अपने प्रश्न पूछे